Ala Vaikunthapurramuloo Hindi Trailer Review in Hindi

Ala Vaikunthapurramuloo, 2020 में जब ये फ़िल्म रिलीज़ हुई थी तो किसी ने सोचा भी नहीं होगा की रिलीज़ के दो साल बाद 2022 में ये इंडियन सिनेमा का अतीत, वर्तमान और भविष्य सब कुछ बदलने वाली हैं।

हिंदी डबिंग फ़िल्में नॉर्थ audience को कितनी पसन्द हैं? उसका सबसे बड़ा सबूत Pushpa का हिंदी कलेक्शन हैं।

लेकिन ये तो सिर्फ पुष्पा हैं, ना जाने साउथ इंडस्ट्री के पास कितनी फिल्मों का खजाना भरा पड़ा हैं? जिसका इंतज़ार हिंदी audience को कई सालों से हैं लेकिन बॉलीवुड और रीमेक ऐसा होने नहीं देते।

ये भी पढ़ें:- Ala Vaikunthapurramuloo Movie Review

लेकिन जैसा अल्लु अर्जुन ने बोला “झुकेगा नहीं अपुन” Ala Vaikunthapurramuloo फ़िल्म का हिंदी ट्रेलर आज फाइनली रिलीज़ हो चुका हैं और अल्लु अर्जुन फैन्स के लिए इससे बड़ी खुशखबरी ओर कोई हो ही नहीं सकती।

Ala Vaikunthapurramuloo Hindi Trailer Review in Hindi: Release Date

कुछ फिल्में अपनी कहानी से चलती हैं तो कुछ डायरेक्टर के दिमाग से, लेकिन Ala Vaikunthapurramuloo की सक्सेस का पूरा क्रेडिट अल्लु अर्जुन को, जिन्होंने एक साधारण सी फ़िल्म को स्पेशल बना दिया।

गुस्सा ये सोचकर आता हैं कि Ala Vaikunthapurramuloo फ़िल्म थिएटर में रिलीज़ होना डिज़र्व करती थी लेकिन Goldmines और बॉलीवुड, दोनों ने मिलकर हम audience को पागल बना दिया।

फैन्स के emotions के साथ खेलकर खुद के ढिंचक चैनल को प्रोमोट करने वाला स्टंट एकदम घटिया चीज़ हैं, पब्लिक को बेवकूफ मत बनाओ।

लेकिन इन सब में अच्छी बात ये की चाहे जैसे भी हो जहाँ भी हो Ala Vaikunthapurramuloo का हिंदी वर्जन फाइनली फैन्स के लिए तैयार ही चुका हैं और 6 फ़रवरी को देखने के लिए उपलब्ध हो जाएगा।

गुस्सा थोड़ा सह लेंगे वरना goldmines ने भी काम बहुत गन्दा किया हैं।

ये भी पढ़ें:- Radhe Shyam Trailer Review

Ala Vaikunthapurramuloo एक स्टाइलिश सिनेमा हैं जिसमें मास और क्लास का ख़तरनाक जोड़ देखने को मिलेगा आपको।

अल्लु अर्जुन का स्वेग, जिसके फैन्स दीवाने हैं वो एकदम टॉप लेवल का नजर आएगा इस फ़िल्म के अंदर।

Pushpa में जैसे थोड़ा दिमाग लगाना पड़ा था, यहाँ सिर्फ एंटरटेनमेंट मिलेगा रोमांस, एक्शन और emotions, आसान सा सिनेमा जिसे देखों और सीटी मारो ताली बजाओ और भूल जाओ।

सबसे जरूरी चीज, जिसनें Ala Vaikunthapurramuloo फ़िल्म नहीं देखी हैं वो ट्रेलर देखकर फ़िल्म की कहानी का अनुमान नहीं लगा सकता।

फ़िल्म में एक surprise फ़ेक्टर हैं जो आपके दिमाग को पकड़कर रखता हैं।

ट्रेलर को एकदम smart तरीके से edit किया गया हैं, जहाँ पर म्यूजिक की जरूरत हैं वहाँ रोमांस मिलेगा, जहाँ पर एक्शन होना चाहिए वहाँ अल्लु अर्जुन का स्वेग मिलेगा।

अल्लु अर्जुन के looks और डांस मूव्ज इस ट्रेलर की हाईलाइट हैं। पहले जो साउथ के आइकॉन थे वो अब इंडियन सिनेमा के आइकॉन बन चुके हैं।

क्यों कैसे? ये जो सवाल हैं उसका सटीक जवाब ये खुद फ़िल्म हैं।

Ala Vaikunthapurramuloo के ट्रेलर की सबसे बढ़िया बात ये की ओरिजनल फ़िल्म का बैकग्राउंड म्यूजिक जो 2020 में इसकी सफलता का एक्स फ़ेक्टर साबित हुआ था उसको हिंदी वर्जन में भी रिटेन किया गया हैं।

ओरिजनल फ़िल्म के गाने जो पहले से ही इतने ब्लॉकबस्टर हैं बस उनको हिंदी वर्जन में किस तरीके से डाला जाएगा उसको लेकर मुझे थोड़ा शक हैं।

टेंशन वाली बात ये की अगर लिरिक्स का word to word हिंदी ट्रांसलेशन हो गया तो गए काम से।

स्वेग तो छोड़ो पूरी फिल्म एक मज़ाक बनकर रह जायेगी, उससे छेड़छाड़ नहीं होनी चाहिए।

ये भी पढ़ें:- Liger Teaser Hindi Review: विजय देवरकोंडा । अनन्या पांडे

ट्रेलर की हिंदी डबिंग भी बढ़िया हैं। अल्लु अर्जुन और संकेत महात्रे, इन दोनों की जोड़ी audience को पहले से ही काफ़ी पसन्द हैं।

हाँ लेकिन Ala Vaikunthapurramuloo फ़िल्म के बाकी सपोर्टिंग कैरेक्टर्स की डबिंग में कुछ मजा सा नहीं आया।

और साथ ही डॉयलोग्स थोड़े बदल दिए गए हैं तेलुगु वर्जन से तो feelings और expression कुछ मिल नहीं रहे।

अल्लु अर्जुन यूट्यूब पर views के रिकार्ड्स तो पहले ही कई बार बना चुके हैं लेकिन सीधा TV पर ये अनुभव करने का मौका पहली बार मिलेगा।

लेकिन ये पहली बार आख़िरी बार में ना बदल जाये, उसकी जिम्मेदारी आप लोगों पर हैं।

Ala Vaikunthapurramuloo को audience का प्यार मिला सिर्फ सोशल मीडिया पर ही नहीं बल्कि TRP में भी।

तो आगे जाके रीमेक शब्द से छुटकारा मिल जाएगा ये लिख कर ले लो और हमेशा के लिए ये बीमारी ख़त्म हो जाएगी।

24 रीमेक फ़िल्में announce हो चुकी हैं और इनसे डबल फिल्मों की डील process में हैं अभी।

भविष्य में अगर ये सब नहीं देखना, सिर्फ और सिर्फ ओरिजनल कॉन्टेन्ट देखना चाहते हो तो इस बार अल्लु अर्जुन को जरूर सपोर्ट करना वरना शहजादा आएगी 2022 के अंत में।

ये भी पढ़ें:- बधाई दो ट्रैलर रिव्यू

उसको देखना 400-500 का टिकट खरीदकर, फिर घर आके सोशल मीडिया पर रीमेक को गाली देना।

उससे घण्टा कुछ नहीं बदलेगा, ऐसी गलती मत करो और इन डबिंग मूवीज को सपोर्ट करो जितना हो सके उतना, इससे पूरा इंडियन सिनेमा बदल सकता हैं।

पब्लिक king हैं यहाँ की ये दिखा दो इस बार। इंडियन फिल्म्स हैं इंडियन audience के लिए फिर चार पाँच रीमेक क्यों भाई? ये बिजनेस बन्द।

चलो दोस्त, अब बारी आप लोगों की, Ala Vaikunthapurramuloo का हिंदी ट्रेलर कैसा लगा? एवरेज़, बढ़िया या सुपर डुपर।

कॉमेंट में फ़टाफ़ट लिख दो अपने मन की बात।

पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ भी शेयर कीजिए!

Leave a Reply