Ala Vaikunthapurramuloo Movie Review

फाइनली वो दिन आ गया जब उस फिल्म के दर्शन हो गए जिसका इंतज़ार कर करके लोग थक गए लेकिन भईया बॉलीवुड ने टाँग अड़ाने की कोशिश तो बहुत की लेकिन अल्लु अर्जुन झुका नहीं बॉस।

जी हाँ, Ala Vaikunthapurramuloo फ़िल्म का हिंदी वर्जन पब्लिक के सामने रख दिया गया हैं।

और रिजल्ट आप खुद देख सकतें हो, TRP के नए नए रिकार्ड्स बनेंगे दोस्त।

2 साल बाद भी किसी फिल्म का इतना ज्यादा क्रेज़ मैंने पहली बार देखा हैं और उम्मीद करता हूँ कि ये आखिरी बार ही हो, क्योंकि अब से अल्लु अर्जुन की सारी की सारी फिल्में हमें पैन इंडिया पर चाहिए।

अब कोई रीमेक नहीं, कोई इंतज़ार नहीं।

Ala Vaikunthapurramuloo Review in Hindi

Ala Vaikunthapurramuloo Cast (स्टार कास्ट)

  • अल्लु अर्जुन – बंटू
  • पूजा हेगड़े – अमूल्य (अम्मू)
  • तब्बू – यशोदा (यशु)
  • जयराम – रामाचंद्र
  • सुशांत – राज मनोहर
  • निवेत्ता पथुराज – नन्दिनी (नन्दू)
  • समूथीराकनी – अप्पला नायडू
  • मुरली शर्मा – वाल्मीकि
  • नवदीप – HR शेखर
  • सुनील – सीताराम
  • सचिन खेडेकर – अनंथ रामाकृष्णा
  • हर्ष वर्धन – काशीराम
  • राजेन्द्र प्रसाद – डीआईजी प्रजापति
  • गोविंद पद्मसूर्या – पैडिथल्ली

Ala Vaikunthapurramuloo Details (जानकारी)

  • डायरेक्टर – त्रिविक्रम श्रीनिवास
  • राइटर – त्रिविक्रम श्रीनिवास
  • प्रोड्यूसर – अल्लु अरविंद, एस राधा कृष्ण
  • सिनेमेटोग्राफी – पी एस विनोद
  • म्यूजिक – एस. थमन
  • रनिंग टाइम – 165 मिनट
  • रिलीज़ डेट – 13 फ़रवरी 2022

Ala Vaikunthapurramuloo Story (कहानी)

फ़िल्म Ala Vaikunthapurramuloo की कहानी बंटू की हैं जो बचपन से अपने पापा की डाँट और जिंदगी की लात दोनों बड़ी ही ईमानदारी से खा रहा हैं।

बुरी किस्मत के मारे गरीब भी हैं ये।

लेकिन इस कहानी के बराबर एक दूसरी कहानी भी चल रहीं हैं जिसमें एक राजा हैं और उसका एक बड़ा सा महल।

जिसमें राजा के साथ उसका एक राजकुमार रहता हैं जो सीधा साधा डरपोक टाइप का हैं।

कहानी में ट्विस्ट तब आता हैं जब राजा को चैलेंज करके उसकी दुनियाँ को बर्बाद करने उसके दुश्मन, कुछ अंदर वाले तो कुछ बाहर वाले दोनों पूरी ताकत से हमला कर देते हैं।

ये भी पढ़ें:- Akhanda Movie Review in Hindi

अब दुश्मन और राजा के बीच खड़े हो जाते हैं अपने बंटू भईया क्योंकि इन दोनों का एक दूसरे से पुराना नाता हैं।

अब ये सीक्रेट कनेक्शन क्या हैं? इसके बारे में कोई नहीं जानता, आप जानना चाहते हो तो बॉस फ़िल्म देखों – अब में ही सब कुछ थोड़े ही बता दूँ।

अभी मुद्दे की बात, फ़िल्म Ala Vaikunthapurramuloo की हिंदी डबिंग कैसी हैं? क्या तेलुगु वर्जन के साथ पूरा न्याय हुआ हैं या फिर गड़बड़ कर दी गयी हैं?

इसका जवाब हमेशा की तरह एकदम सीधा बताऊँगा।

अल्लु अर्जुन की आवाज़ एकदम परफेक्ट हैं। संकेत महात्रे की आवाज़ एकदम कड़क और दमदार जो अल्लु अर्जुन के साथ एकदम फिट बैठती हैं।

कॉमेडी scenes हो, रोमांटिक नोंक झोंक हो या फिर मुलाकात और मुक्कालात वाला एक्शन, हर जगह अल्लु अर्जुन और संकेत महात्रे जबरदस्त धमाल मचा रहा हैं, फूल मजा आएगा आपको दोस्त।

लेकिन जो बाकी किरदारों की डबिंग हैं वो कुछ ज्यादा खास नहीं हैं, बस काम चलाऊ टाइप की हैं।

जिसकी वजह से ओरिजनल फ़िल्म में जो सपोर्टिंग कैरेक्टर्स का जो प्रभाव था वो हिंदी वर्जन से गायब हो गया।

ये भी पढ़ें:- कर्णन रिव्यू Karnan Movie Review in Hindi

और सबसे बड़ी गड़बड़ पता हैं क्या हुई? जिस बात का डर मुझे पहले से ही था और इस फ़िल्म के ट्रैलर रिव्यू में भी मैंने इस बात को बताया था आपको, फ़िल्म Ala Vaikunthapurramuloo के गानों को हिंदी डब नहीं करना चाहिए था बॉस।

वास्तव में पूरी फिल्म का कबाड़ा करके रख दिया हैं।

वो ओरिजनल वाली फ़ीलिंग्स एकदम गायब हैं, बिल्कुल भी मजा नहीं आया।

जबकि फ़िल्म Ala Vaikunthapurramuloo के तेलुगु वर्जन में फ़िल्म के ब्लॉकबस्टर बनने का सबसे बड़ा कारण अल्लु अर्जुन की एक्टिंग और म्यूजिक एलबम था।

लेकिन यहाँ हिंदी डबिंग में गानों में वो बात ही नहीं हैं, बात तो छोड़ों यहाँ तो पूरा का पूरा गाना ही गायब कर दिया गया हैं।

और फ़िल्म Ala Vaikunthapurramuloo में जो बोर्ड मिटिंग वाला scene हैं जो ओरिजनल फ़िल्म का सबसे बड़ा हाईलाइट था उसको तो एकदम बर्बाद ही कर दिया हैं हिंदी वर्जन में।

क्योंकि वहाँ ओरिजनल गाने ही बदल दिए गए जिससे डांस के साथ म्यूजिक बिल्कुल भी मैच नहीं करता, ओरिजनल scene का मजाक बनाके रख दिया हैं यहाँ।

लेकिन इन सबके बावजूद पूरे ढाई घण्टे पता भी नहीं चलेंगे की कब निकले और इन सबका पूरा क्रेडिट जाता हैं अल्लु अर्जुन की तोड़ फोड़ परफॉर्मेंस को।

बन्दे ने सच में एकदम आग सी लगा दी हैं, जो ये करते हैं वो कोई नहीं कर सकता।

अलग ही लेवल का स्वेग हैं।

ये भी पढ़ें:- असुरन रिव्यू Asuran Movie Review in Hindi

जब जब ये स्क्रीन पर आते हैं, हर एक scene स्पेशल महसूस होता हैं, एकदम ख़तरनाक एनर्जी।

पक्की बात हैं अगर फ़िल्म Ala Vaikunthapurramuloo का हिंदी वर्जन सीधा थिएटर्स में आता तो वापस वहीं फ़िल्म Pushpa वाली सक्सेस रिपीट हो जाती।

लेटेस्ट फ़िल्मों को पीछे करके अल्लु अर्जुन की फ़िल्म Ala Vaikunthapurramuloo एक नया ही रिकॉर्ड बना जाती।

ये फ़िल्म एक परफेक्ट फैमिली एंटरटेनर हैं जिसमें दिमाग को छुट्टी पर भेजो और दिल खोलकर सीटियाँ तालियाँ बजाओ।

लेकिन चलो कोई नही।

अब पूरा का पूरा दबाव आने वाला हैं शहजादा के ऊपर जिसको इसी साल नवम्बर में रिलीज़ किया जाएगा।

और अल्लु अर्जुन के फैंस तो उस फिल्म का इंतज़ार खुद अल्लु अर्जुन की फ़िल्म से भी ज्यादा कर रहें हैं।

ये भी पढ़ें:- Tiger 3 Movie Teaser Review: Release Date Announcement

चलो अब आप बताओ, आपको फ़िल्म Ala Vaikunthapurramuloo की हिंदी डबिंग कैसी लगी?

क्या फ़िल्म के ओरिजनल वर्जन के साथ न्याय हुआ या फिर नहीं?

आपको क्या लगता हैं, क्या ओरिजनल फ़िल्म को सस टाइटल्स के साथ ही देखना बेहतर होगा या फिर Ala Vaikunthapurramuloo के हिंदी वर्जन को?

फटाफट लिख दो नीचे कमेंट बॉक्स में अपने दिल की बात।

फ़िल्म Ala Vaikunthapurramuloo को आप कितनी रेटिंग्स देना चाहते हैं?

पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ भी शेयर कीजिए!

Leave a Reply