Aranyak Web Series Review: नेटफ्लिक्स का असुर

नर तेंदुए की कहानी सुनी हैं आपने? आधा इंसान और आधा तेंदुआ। जो सिर्फ चन्द्रग्रहण की रात जंगल में बाहर निकलता हैं और इंसान का शिकार करके उसका खून पी जाता हैं।

और बाद में लाश पेड़ों के बीचों-बीच फाँसी के फंदे से लटकी पाई जाती हैं। साथ में गले पर पंजों के बड़े बड़े निशान।

डर गए, अभी से, यह तो बस शुरुआत हैं। आगे आगे देखों होता हैं क्या?

नेटफ्लिक्स पर रिलीज़ हुई Aranyak, एक जबरदस्त सस्पेंस थ्रिलर, जो 8 के 8 एपिसोड आपके दिमाग का एग्जाम लेने वाली हैं।

एक शिकारी जिसका शिकार पूरा शहर हैं, लेकिन कब किसकी बारी आएगी, ये आपको पता लगाना हैं।

Aranyak Web Series Review

Aranyak web series review hindi

Aranyak Web Series Review: स्टोरी

Aranyak वेब सीरीज़ की कहानी पहाड़ों के बीच जंगल के पड़ोसी शहर सिरोना की हैं। जहाँ पिछले 19 सालों से एकदम शांत और खुशी खुशी कैलेंडर की डेट्स आगे बढ़ रहीं हैं।

लेकिन फिर शहर में ट्रांसफर होता हैं एक नए इंस्पेक्टर साहब का। जिनकी अलग ही अपनी एक जिंदगी हैं, जिनसे छुटकारा पाने के लिए ये सिरोना की गलियों का सहारा लेते हैं।

ये भी पढ़ें:- Money Heist Season 5 Vol 2 Netflix Web Series Review: दुनियाँ की सबसे बड़ी चोरी का अंत

लेकिन बुरी किस्मत, शहर में आते ही इनका स्वागत होता हैं खतरनाक मर्डर केस से, जहाँ विदेश से आई एक टूरिस्ट बच्ची की लाश जंगल के पेड़ों के बीच फाँसी से झूलती हुई पाई जाती हैं।

केस को सुलझाने में इंस्पेक्टर साहब की मदद करेंगी, शहर की पुरानी इंस्पेक्टर मैडम, जो वैसे तो एक साल की छुट्टी पर हैं, लेकिन इतना बड़ा केस वो भी इतने छोटे शहर में, इसका इंतज़ार मेडम को पूरी ज़िंदगी रहा हैं।

तो बस अपने सपने को जीने का मौका ये गँवाना नहीं चाहती।

ये भी पढ़ें:- Radhe Shyam Trailer Review: देसी टाइटेनिक

शक पूरा का पूरा नर तेंदुए पर हैं, जिसको देखा आजतक किसी ने नहीं लेकिन किस्से कहानियों में वो हर किसी के दिमाग में जिंदा हैं और 19 साल बाद फिर से शिकार पर निकल पड़ा हैं।

कहानी में ट्विस्ट तब आता हैं जब नर तेंदुआ तो नहीं बल्कि एक काला तेंदुआ, पहले मैडम के घर पे, फिर बाद में इंस्पेक्टर साहब के ऊपर अटैक कर देता हैं, जिसमें जिंदगी और मौत के बीच सिर्फ कुछ सेकण्ड्स का फासला बचता हैं।

कहीं ऐसा तो नहीं, शहर को बचाने वाले खुद किसी जानवर का शिकार बनने वाले हैं, वो भी सबसे खतरनाक जानवर। कौन? अरे आप जानते तो हैं, इंसान।

Aranyak का एक्स फ़ेक्टर हैं इसकी टेढ़ी-मेढ़ी उलझी हुई कहानी, जो पूरे आठ एपिसोड्स तक सस्पेंस को एकदम सम्भाल कर रखती हैं, एंडिंग के लिए। उससे पहले कुछ भी समझ नहीं आता।

ये भी पढ़ें:- 83 Movie Review: भारत की पहली वर्ल्डकप ट्रॉफी की कहानी

हाँ लेकिन शो के मेकर्स कदम कदम पर छोटे छोटे हिंट्स देकर आपको लालच देते हैं, क्लाइमेक्स खुद पकड़ के बाहर निकालने का।

इससे होता ये हैं कि हर एक सेकंड आपका दिमाग लगातार भागता रहता हैं और आप कहानी को सॉल्व करने का चेलेंज पर्सनली ले लेते हैं।

सीधा फर्स्ट सीन से बिल्डअप शुरू हो जाता हैं, एक सेकंड भी टाइम बर्बाद नहीं किया जाता।

धीरे धीरे सारे कैरेक्टर्स कहानी में इंट्रोड्यूस किए जाते हैं और हर किसी पे शक ना हो, ऐसा हो ही नहीं सकता।

ये भी पढ़ें:- Parampara Season 1 Hotstar Web Series Review: एक पॉलिटिकल ड्रामा

मतलब हर वो बन्दा जो स्क्रीन पर दिखाई देगा, उसके अंदर क़ातिल क्यों नहीं हो सकता, इसका कोई जवाब नहीं हैं। सबके सब सस्पेक्ट्स हैं।

राईटिंग कमाल की हैं जो सच और झूठ के बीच का फर्क गायब कर देती हैं। फिर बचा हुआ काम पॉलिटिक्स पूरा करती हैं।

एक तरफ शहर में लोग मर रहें हैं तो शहर को चलाने वाले लोग पॉवर की लड़ाई लड़ रहें हैं।

ये भी पढ़ें:- Minnal Murali Movie Review: भारत का अपना सुपरहीरो

इसमें जीत हार किसी की भी हो, कुर्बानी सिर्फ मासूम लोगों की ही जाएगी। ये पोलिटिकल एंगल कहानी को ओर सीरियस और डार्क बना देता हैं।

लेकिन सिर्फ नेताजी ही नहीं, पुलिस के अंदर भी ईगो का कॉम्पिटिशन हैं। दोनों मैडम और साहब खुद को एक दूसरे से बेहतर साबित करना चाहते हैं।

कहीं ऐसा तो नहीं, केस को फेल करके ये खुद को ऊपर और दूसरे को नीचा दिखाने लग जाएं और नर तेंदुआ अपना नया शिकार कर जाए।

एक मेन कहानी, और उसके पीछे कई सारी कहानियाँ, और क्लाइमेक्स में जब इन सबके बीच का कनेक्शन फाइनली रिवील होता हैं तो होश उड़ जाते हैं।

सच आँखों के सामने था, लेकिन हम उसे बिल्कुल भी पकड़ नहीं पाए।

Aranyak Web Series Review: एक्टिंग

सबसे जबरदस्त हैं Aranyak की कास्टिंग, एक एक एक्टर अपने रोल से इश्क लड़ा रहा हैं। वो एक्टर्स, जिनका नाम छोटा लेकिन काम बहोत बड़ा हैं।

परमब्रत बहोत ही गिफ्टेड एक्टर हैं। ये किसी भी रोल को एकदम आसानी से प्रस्तुत कर सकते हैं। स्मार्ट लेकिन इमोशनल।

पास्ट और प्रेजेंट को बैलेंस्ड करते हुए शो को लीड करना, काश बॉलीवुड में ऐसा टेलेंट होता।

फिर रवीना टण्डन का कमबैक तो दमदार और असरदार होना ही था। पूरे आठ एपिसोड में एक सेकंड के लिए भी इन्होंने पहाड़ी लहजे को गायब नहीं होने दिया।

परमब्रत के साथ स्क्रीन पर कम्पीट करना बिल्कुल भी आसान नहीं हैं।

ये भी पढ़ें:- Atrangi Re Movie Review: धनुष की लाजवाब ऐक्टिंग का तड़का

लेकिन रवीना टंडन हर सीन में इतना घूसी हुई हैं कि इनके बिना शो को इमेजिन करना लगभग असंभव होगा।

और साइड कैरेक्टर्स की तो बात ही मत पूछो भाई, ये छोटे छोटे सपोर्टिंग रोल्स ही Aranyak को स्पेशल बनाने का काम करते हैं।

बहोत सारे कैरेक्टर्स हैं, जिनको सही वक्त पर सही जगह इस्तेमाल करके ऑडिएंस के दिमाग के साथ खेला जाता हैं।

हर किसी की एक्टिंग इतनी जबरदस्त, जो नर तेंदुए की कहानी को असली बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ती।

ये भी पढ़ें:- Tadap Movie Review: अहान शेट्टी, तारा सुथारिया

एक लास्ट चीज ओर पढ़ लो बस, ये जो जंगल वाली लोकेशन हैं, ये शो में सस्पेंस वाला एक अलग ही फ्लेवर डाल देती हैं।

आँखों को सुकून मिलता हैं, पेड़ पौधे देखकर, लेकिन दिमाग भूल-भुलैया में फँस जाता हैं।

पीछे पहाड़ों वाली ठंड और खूबसूरती, नर तेंदुआ ना होता तो में खुद स्क्रीन के अंदर घुस जाता।

Aranyak Web Series Review: रेटिंग

मेरी तरफ से Aranyak को मिलेंगे 5 में से 4.5 स्टार्स। एक तो दिमाग को परेशान करने वाली कहानी के लिए।

दूसरा, जबरदस्त राईटिंग, जो इतने सारे कैरेक्टर्स का बेहतरीन इस्तेमाल करती हैं। तीसरा, शानदार एक्टिंग के लिए। रवीना और परमब्रत के लीड में होने के अलावा बाकी सभी सपोर्टिंग रोल्स ने कमाल कर दिया हैं।

चौथा, डायरेक्शन के लिए, जो 8 एपिसोड्स में 1 सेकंड के लिए भी सस्पेंस बाहर नहीं आने देता और ना ही चेन से सोने देता हैं।

बचा आधा स्टार, नर तेंदुए वाले कॉन्सेप्ट को लगभग सच जैसा फील कराने के लिए मिलेगा। बाकी जंगल और पहाड़ों ने अपना काम बखूबी किया हैं।

ये भी पढ़ें:- Pushpa Movie Review: एक फ़िल्म पड़ी पूरे बॉलीवुड पर भारी

बात करूँ नेगेटिव्ज की, तो आधा स्टार कटेगा, एंडिंग में कुछ फालतू की हीरोपंती और बेबुनियाद सीन्स।

जैसे एक ही बन्दा सब से लड़ जाए। वो थोड़ा मूड़ खराब कर देता हैं।

अब सुनो मेरी बात, असुर पसन्द हैं ना आपको, तो Aranyak को गलती से भी मिस मत कर देना। वहीं सस्पेंस, वहीं ट्विस्ट, जिंदगी और मौत का खेल, मजा आ जायेगा गुरु।

Aranyak Web Series Review: फ़िल्म डिटेल्स

कलाकार – परमब्रत चटोपाध्याय (अंगद मलिक), रवीना टण्डन (कस्तूरी डोगरा), आशुतोष राणा (महादेव डोगरा)
कुल एपिसोड – 8
रिलीज़ डेट – 10 दिसंबर 2021

पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ भी शेयर कीजिए!

Leave a Reply