बीस्ट रिव्यू । Beast (RAW) Movie Review in Hindi

तो भईया जी, आखिरकार जिस फ़िल्म का इंतज़ार था वो थिएटर्स में रिलीज़ हो ही गयी।

Beast या फिर जिसे हिंदी में RAW के नाम से रिलीज़ किया गया हैं।

थालापथि विजय की मोस्ट अवेटेड फ़िल्म Beast का क्रेज़ ना सिर्फ साउथ में हैं बल्कि इसे लेकर नॉर्थ भी पागल हैं।

और इसी क्रेज़ के चलते कुछ लोग तो KGF 2 पर भी शक करने लगे हैं।

और इन्ही सब चीज़ों को देखने के बाद इस फ़िल्म को लेकर काफ़ी ज्यादा उम्मीदें थी लेकिन फ़िल्म देखने के बाद समझ नहीं आया कि क्या बोलूं?

क्योंकि मुझे बिल्कुल भी आईडिया नहीं था कि फ़िल्म Beast कुछ ऐसी निकलेगी।

लेकिन अब आप जल्दबाजी में भागे भागे थिएटर्स मत चले जाना क्योंकि आपके साथ भी एक बड़ा स्कैम हो सकता हैं।

जी हाँ, पहले ये Beast review पढ़ो, बाकी सारी बातें खुद-ब-खुद समझ जाओगे जनाब।

ये भी पढ़ें: RRR movie review

Beast (RAW) Movie Review in Hindi

Beast Movie Cast (स्टार कास्ट)

  • विजय – वीरा राघवन
  • पूजा हेगड़े – प्रीति
  • सेल्वराघवन – अल्ताफ हुसैन
  • योगी बाबू – जिल
  • रेडिन किंग्सले – जेक
  • वीटीवी गणेश – डोमिनिक इरुधयाराजी
  • शाजी चेन – होम मिनिस्टर
  • अपर्णा दास – अपर्णा
  • सतीश कृष्णन – रामाचंद्रन
  • लिलिपुट फारुखी – उमर फ़ारुख
  • अंकुर अजित विकल – उमर सैफ़
  • प्रुध्वी राज – वीरा का मनोचिकित्सक
  • शाइन टॉम चाको – एक आतंकवादी जो वीरा की तरफ़ हैं।

Beast Movie Details (जानकारी)

  • डायरेक्टर – नेल्सन
  • राइटर – नेल्सन
  • प्रोड्यूसर – कलानिधि मारानी
  • सिनेमेटोग्राफी – मनोज परमहंस
  • म्यूजिक – अनिरुद्ध
  • रिलीज डेट – 13 अप्रैल 2022
  • रनिंग टाइम – 162 मिनट
  • बजट – 150 करोड़

Beast Movie Rating: 1/5

Beast Movie Story (कहानी)

फ़िल्म Beast की कहानी एक सीक्रेट रॉ एजेंट की हैं जिसका दिमाग गुंडों से कहीं तेज चलता हैं लेकिन दिल में हीरो वाली फीलिंग्स हैं और एक्शन तो किसी सुपरहीरो की तरह करते हैं।

बस कुछ वैसा ही इंट्रोडक्शन जो किसी टिपिकल बॉलीवुड या साउथ मूवी के हीरो का होता हैं।

कहानी में ट्विस्ट तब आता हैं जब कुछ गन्दी शक्ल वाले लोग दिल में बुरे इरादे लेके एक शॉपिंग मॉल में घुस जाते हैं और वहाँ मौजूद सभी मासूम लोगों को बंधक बना लेते हैं, बंदूक की नोक पर।

अब यहाँ फिर से एक ट्विस्ट ये हैं कि इन मास्क्स के पीछे कोई एक ऐसा चेहरा छिपा हैं जो बाहर से इंसान की शक्ल लिए जरूर हैं लेकिन अंदर से किसी जानवर यानी Beast से कम नहीं।

बस यहाँ से शुरुआत होती हैं एक मजेदार खेल की, जीतने वाले को उसी की जिंदगी तोहफ़े के रूप में दी जाएगी और हारने वाले को अपनी जान देनी पड़ेगी।

अपना हीरो इस खेल को खेलने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं, हाथ में चाकू, बंदूक, तलवार लेकर और उसके सामने हैं तेज दिमाग वाला दुश्मन।

ये भी पढ़ें: Radhe Shyam movie review

अब देखों बॉस, ऊपर लिखी गयी लाइन्स को पढ़कर आपको हॉलीवुड वाली फीलिंग्स आई होगी ना? मुझे भी आई थी।

एक बड़ा सा शॉपिंग मॉल जिसमें 50-60 लोगों पर अकेला हीरो तबाही बनकर टूटेगा।

हम इसकी कल्पना भी करें तो रोंगटे खड़े हो जाते हैं।

फ़िल्म Beast का टॉपिक हॉलीवुड से उठाया जरूर गया हैं लेकिन फ़िल्म का क्लाइमेक्स पूरा मूड खराब कर देता हैं।

इसके क्लाइमेक्स को देखकर आपको किसी एवरेज़ घिसी पिटी बॉलीवुड फिल्म की याद आ जायेगी दोस्त।

देखों बॉस, अगर एकदम सच बताऊँ तो यूट्यूब पर आपको फ़िल्म Beast का ट्रैलर मिल जाएगा, अगर देखा नहीं तो अभी जाके देखों।

और अगर देख लिया तो दोस्त आपने फ़िल्म के सभी बेहतरीन scenes देख लिए।

नहीं समझे?

फ़िल्म Beast के जितने भी बेहतरीन scenes हैं वो सभी आपको Beast के ट्रैलर में देखने को मिल जाएंगे, इसके अलावा फिल्म में कुछ भी अलग नहीं हैं।

फ़िल्म में कोई खास कहानी नहीं हैं, सिर्फ एक परिस्थिति को पूरे ढाई घण्टे तक खींच दिया गया हैं।

मुझे लगा था कि फ़िल्म में कई ट्विस्ट्स एंड टर्न्स होंगे, थ्रिल वाली फीलिंग्स आएगी लेकिन बॉस एकदम बोरिंग हैं सबकुछ आप पहले से ही समझ जाओगे।

एक ऐसा सिनेमा होता हैं जिसमें कुछ नया try किया जाता हैं ऑडिएंस को कुछ अलग दिखाने के इरादे से जबकि एक होता हैं वो सिनेमा जिसे सिर्फ पैसे कमाने के इरादे से बनाया जाता हैं।

जिसमें ना कुछ अलग होता हैं और ना ही कुछ स्पेशल, सिर्फ थिएटर्स में भीड़ इकठ्ठी करना ही इनका मकसद होता हैं।

अब फ़िल्म Beast को ही देख लीजिए, पूरी फिल्म में जो करीब ढाई घण्टे की हैं।

कैमरा सिर्फ और सिर्फ विजय सर के ऊपर ही नजर आएगा, मतलब फ़िल्म के सपोर्टिंग कैरेक्टर्स किसी काम के नहीं हैं।

एक हीरो हैं तो बाकी सब के सब जीरो।

एक फ़िल्म को देखने में मजा तब आता हैं जब कहानी का क्लाइमेक्स क्या होगा? ये सवाल आपको अंदर ही अंदर परेशान करें।

ये भी पढ़ें: Ala Vaikunthapurramuloo movie review

लेकिन Beast में बदकिस्मती से ऐसा कुछ नहीं हैं, आपके मन में ये सवाल आना तो दूर क्लाइमेक्स क्या होना चाहिए इसका जवाब आप खुद फ़िल्म के मेकर्स को दे सकतें हो।

और तो और, फ़िल्म Beast में कोई भी एक्शन scene ऐसा नहीं हैं जिस पर मुँह फटा का फटा रह जाये या फिर सीटियाँ मारने का मन करें।

अब देखों बॉस, बात करें फ़िल्म Beast के KGF 2 के साथ क्लेश की तो सच कह रहा हूँ, फ़िल्म KGF का ट्रैलर भी Beast पर भारी पड़ जायेगा।

दोनों फ़िल्मों का दूर दूर तक कोई कम्पीटिशन नहीं हैं।

Beast Movie Review: म्यूजिक

फ़िल्म Beast का म्यूजिक ही एक ऐसी चीज़ हैं जिसकी वजह से आप थिएटर में ढाई घण्टे तक बैठ सकतें हो।

सच कह रहा हूँ दोस्त, अगर फ़िल्म में ये म्यूजिक नहीं होता ना तो में फर्स्ट हाफ़ में ही उठकर आ जाता।

म्यूजिक कानों को सुकून देता हैं जो टिकट में खर्च हुए पैसे के गम को थोड़ा कम करता हैं।

Beast Movie Review: क्या अच्छा क्या बुरा?

फ़िल्म के बारे में सिर्फ एक चीज़ मुझे पसन्द आई वो था इसका म्यूजिक।

बाकी इसके अलावा ऐसा कुछ भी नहीं था जिसे में हाईलाइट करना चाहूं।

फ़िल्म की घिसी पिटी कहानी पूरा मूड खराब कर देती हैं।

फ़िल्म को इतना कमजोर बनाने का श्रेय डायरेक्टर साहब को जाना चाहिए, पूरा का पूरा कॉपी पेस्ट खुद का कुछ एक्सपेरिमेंट किया ही नहीं जनाब ने।

विजय सर को सरप्राइज की तरह फैंस के सामने प्रस्तुत किया जा सकता था लेकिन उन्हें कमजोर और धीमे तरीके से प्रस्तुत किया गया जो फ़िल्म को ले डूबा।

साथ ही, फ़िल्म में आपको कुछ फालतू के साइड कैरेक्टर्स भी देखने को मिलेंगे जिनका Beast की मुख्य कहानी से दूर दूर तक कोई लेना देना नहीं हैं, लेकिन फालतू की कॉमेडी से आपका और मेरा वक्त और पैसा दोनों बर्बाद करते हैं।

आसान शब्दों में कहूँ तो फ़िल्म Beast में बिल्कुल दम नहीं हैं।

फ़िल्म को लेकर जितनी हाइप बनी थी, सब बेकार साबित हुई।

देखों दोस्त, एक सही और फायदेमंद बात कहूँ?

Beast का टिकट बुक नहीं किया हैं तो उन पैसा का इस्तेमाल किसी सही जगह पर करना क्योंकि यहाँ आपको ठगा सा महसूस होने वाला हैं।

Beast Movie Review: FAQ’s

फ़िल्म Beast का एक लाइन में रिव्यू क्या हैं?

यह टिपिकल घिसी पिटी बॉलीवुड फ़िल्मों की तरह हैं जिसे थिएटर्स में सिर्फ भीड़ इकट्ठी करने के लिए बनाया गया हैं।

फ़िल्म Beast का बजट कितना हैं?

फ़िल्म का कुल बजट करीब 150 करोड़ रुपये हैं क्योंकि फ़िल्म में शॉपिंग मॉल का पूरा सेट बनाया गया जिसके चलते फ़िल्म का बजट 150 करोड़ को छू गया।

फ़िल्म Beast की स्टार कास्ट क्या हैं?

फ़िल्म Beast के लीड कैरेक्टर हैं वीरा राघवन यानी विजय जिनके साथ पूजा हेगड़े भी दिखाई देंगी।

फ़िल्म कब रिलीज़ हुई?

फ़िल्म Beast को थिएटर्स में 13 अप्रैल 2022 को रिलीज़ किया गया था।

Beast फ़िल्म का रनिंग टाइम कितना हैं?

फ़िल्म कुल 162 मिनट लम्बी हैं यानी करीब ढाई घण्टे की।

पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ भी शेयर कीजिए!

Leave a Reply