10 Best Bollywood Thriller Movies 2022

इस ब्लॉग में में आपको कुछ ऐसी Bollywood thriller movies के बारे में बताऊँगा जिन्हें देखकर आपके रौंगटे खड़े हो जाएंगे।

Thriller movies देखना हर किसी को पसन्द होता हैं।

जब किसी फिल्म में हम अगले scene का अनुमान लगाते हैं लेकिन असल में कुछ ऐसा हो जाता हैं जो हमारी सोच से एकदम परे हो तो उस वक्त थ्रिल महसूस करना वाकई कमाल का अनुभव होता हैं।

Best bollywood thriller movies की इस लिस्ट को देखिए और बताइए कि इनमें से आपने कौन कौनसी फ़िल्में देख रखी हैं?

Best Bollywood Thriller Movies

1. Kahaani (2012)

best bollywood thriller movie - kahaani

Kahaani साल 2012 में रिलीज़ हुई एक thriller movie हैं जिसे सुजॉय घोष ने डायरेक्ट किया हैं।

फ़िल्म में विद्या बालन ने विद्या बागची का कैरेक्टर प्ले किया हैं जो एक प्रेग्नेंट औरत हैं और अपने पति को ढूँढ रहीं हैं।

एक पुलिस ऑफ़िसर राणा सिन्हा (परम्बरत चटर्जी) विद्या के पति को ढूँढने में उसकी मदद करता हैं।

विद्या के अनुसार उसका पति अर्नब बागची (इंद्रनील सेन गुप्ता) नेशनल डेटा सेंटर (NDC) में काम करता हैं।

ये भी पढ़ें:- Best Bollywood Horror Movies

जब नेशनल डेटा सेंटर में पूछताछ की गई तो मालूम चला कि इस नाम का कोई शख्स वहाँ काम नहीं करता।

एग्नेस डी मेलो जो कि NDC की हेड थी उन्होंने बताया कि उनके पति NDC के पूर्व कर्मचारी मिलन दामजिक से मिलते जुलते हैं।

इससे पहले की एग्नेस डी मेलो विद्या की कोई मदद कर पाती, एक सीरियल किलर बॉब बिस्वास ने उनका मर्डर कर दिया।

फ़िल्म की कहानी वाकई रोचक हैं और हर एक scene में थ्रिल पैदा करती हैं।

2. A Wednesday (2008)

a wednesday movie

नीरज पांडे निर्देशित फ़िल्म A Wednesday एक कमाल की bollywood thriller movie हैं जिसमें नसीरुद्दीन शाह और अनुपम खैर लीड कैरेक्टर्स में हैं।

अनुपम खैर फ़िल्म में जहाँ प्रकाश राठौड़ (कमिश्नर ऑफ मुम्बई पुलिस) के किरदार को प्ले कर रहें हैं वहीं नसीरुद्दीन शाह ने अपने आपको फ़िल्म में शहर के एक आम आदमी के तौर पर प्रस्तुत किया हैं।

फ़िल्म की कहानी एक अनाम व्यक्ति (नसीरुद्दीन शाह) की हैं जिसनें बम से भरा एक बैग पुलिस स्टेशन के रेस्टरूम में छिपा दिया हैं जो मुम्बई पुलिस हेडक्वार्टर के सामने हैं।

उसके बाद वह एक बिल्डिंग की छत पर जाता हैं और अपना सेटअप लगाता हैं जिसमें कई सारी सिम, मोबाइल फोन्स और लैपटॉप शामिल हैं।

उसके बाद वह पुलिस कमिश्नर राठौड़ को फ़ोन करता हैं और कहता हैं कि उसने पूरी मुंबई में पाँच बम लगाएं हैं।

और अगर उसे मुम्बई को बचाना हैं तो चार आतंकवादियों को रिहा करना होगा।

राठौड़ पुलिस ऑफ़िसर्स से कॉलर की लोकेशन पता करने को कहता हैं और कॉलर एक रिपोर्टर नैना रॉय (दीपल शो) को फ़ोन करता हैं और कहता हैं कि यह दिन उसकी ज़िंदगी का सबसे अहम दिन होने वाला हैं।

पुलिस ऑफिसर आरिफ़ (जिम्मी शेरगिल) और जय (आमिर बशीर) चारों आतंकवादियों को कॉलर की बताई जगह पर ले जाते हैं लेकिन आरिफ़ उनमें से एक को अपने साथ वापस ले आता हैं, ये सोचकर कि अगर उसने चारों को जाने दिया तो कॉलर बम की लोकेशन नहीं बताएगा।

जैसे ही बाकी के तीनों आतंकवादी कॉलर की बताई जगह पर पहुँचते हैं तो एक धमाका होता हैं और तीनों मारे जाते हैं।

कॉलर कमिश्नर से कहता हैं कि वो कोई आतंकवादी नहीं हैं और ना ही उन आतंकवादियों को छुड़ाने आया हैं, वो तो बस अपने घर को साफ कर रहा हैं।

फ़िल्म की कहानी काफ़ी थ्रिल पैदा करने वाली हैं और आपको फ़िल्म का क्लाइमेक्स देखें बिना रहा नहीं जाएगा।

3. Talaash (2012)

talaash movie

Talaash 2012 में रिलीज़ हुई एक साइकोलॉजिकल crime thriller movie हैं जिसमें आमिर खान, करीना कपूर और रानी मुखर्जी लीड कैरेक्टर्स में हैं जबकि नवाजुद्दीन सिद्दीकी, राजकुमार राव और शेरनाज़ पटेल सपोर्टिंग कैरेक्टर्स में।

फ़िल्म की कहानी शुरू होती मशहूर एक्टर अरमान कपूर (विवान भाटेना) से जो कार चलाते वक्त अपना कंट्रोल खो देता हैं और कार समेत समुद्र में जा गिरता हैं।

इस केस की इन्वेस्टिगेशन करते हैं सीनियर पुलिस इंस्पेक्टर सुरजन सिंह उर्फ़ सूरी (आमिर ख़ान) और उनके असिस्टेंट देवरथ कुलकर्णी (राजकुमार राव)।

ये भी पढ़ें:- Best Bollywood Crime Movies

सूरी का अपनी बीवी रोशनी (रानी मुखर्जी) से रिश्ता कुछ खास अच्छा नहीं हैं, इन दोनों का एक 8 साल का बेटा था जिसकी एक ट्रिप के दौरान मौत हो जाती हैं जिसके लिए सूरी खुद को कसूरवार मानता हैं।

फ़िल्म की कहानी काफ़ी रोचक हैं और इस इन्वेस्टिगेशन के दौरान हमें कई ऐसे scenes देखने को मिलते हैं जो वाकई इस फ़िल्म को एक बेहतरीन bollywood thriller movie बनाते हैं।

4. Drishyam (2015)

best bollywood thriller movie - drishyam

साल 2015 में रिलीज़ हुई फ़िल्म Drishyam एक कमाल की thriller movie हैं जिसे निशिकांत कामत ने डायरेक्ट किया हैं।

यह फ़िल्म 2013 में आई मलयाली फ़िल्म Drishyam की रीमेक हैं। इस फ़िल्म में अजय देवगन, तब्बू और श्रिया सरन मुख्य किरदार में हैं।

फ़िल्म की कहानी हैं विजय सलगांवकर (अजय देवगन) की जो अनाथ हैं और चौथी कक्षा में ही स्कूल छोड़ दी थी।

अब वो एक केबल टीवी नेटवर्क का मालिक हैं जिसे फ़िल्में देखना बेहद पसंद हैं।

वह फ़िल्में देखकर जो कुछ भी सीखता हैं उन्ही तरीकों का इस्तेमाल वो लोगों की मदद करने में करता हैं और इसीलिए वह आसपास के एरिया में काफ़ी फ़ेमस भी हैं।

उसके परिवार में उसकी पत्नी नन्दिनी (श्रिया सरन) और दो बेटियाँ अंजू और अनु हैं।

अंजू अपने दोस्तों के साथ एक केम्प के लिए जाती हैं जहाँ सेम नाम का लड़का उसका कपड़े बदलते वक्त वीडियो बना लेता हैं और उसे ब्लैकमेल करने लगता हैं।

ये भी पढ़ें:- Best Bollywood Action Movies

सेम अंजू को ब्लैकमेल करके उसके घर आता हैं और उसे अपने साथ सोने को मजबूर करता हैं।

अंजू की माँ नंदिनी वहाँ आ जाती हैं और सेम को वहाँ से जाने को कहती हैं और हाथापाई में अंजू सेम के सिर में लोहे की रॉड से मार देती हैं जिससे उसकी वहीं मौत हो जाती हैं।

सेम इंस्पेक्टर जनरल ऑफ गोआ पुलिस मीरा देशमुख का बेटा था जिस वजह से विजय अपने परिवार को पुलिस से बचाने के लिए सबूत मिटाने की कोशिश करता हैं।

फ़िल्म में काफ़ी दिलचस्प मोड़ दिखाई देते हैं जहाँ हम देखेंगे कि विजय किस तरह अपने परिवार को पुलिस से बचाता हैं।

5. Ek Hasina Thi (2004)

ek hasina thi thriller movie

2004 में आई फ़िल्म Ek Hasina Thi को श्रीराम राघवन ने डायरेक्ट किया हैं जिसमें सैफ अली ख़ान और उर्मिला मातोंडकर लीड कैरेक्टर्स में हैं।

करण (सैफ अली खान) एक अमीर आदमी हैं जो सारिका (उर्मिला मातोंडकर) को लेकर काफ़ी ज्यादा पोजेसिव हैं।

सारिका को अंडरवर्ल्ड से कनेक्शन होने के जुर्म में गिरफ्तार किया जाता हैं और उसे 7 साल की कड़ी सज़ा हो जाती हैं।

तब सारिका को अहसास होता हैं कि असल में करण का अंडरवर्ल्ड से कनेक्शन होता हैं।

जेल में बंद दूसरी कैदी की मदद से सारिका जेल से फ़रार होने में कामयाब हो जाती हैं और अपने आपको पूरी तरह बदल लेती हैं।

फ़िल्म में उर्मिला मातोंडकर और सैफ अली खान की परफॉर्मेंस को उनके कैरियर की बेस्ट परफॉर्मेंस माना गया था।

फ़िल्म वाकई कमाल की हैं और आपको इसे जरूर देखना चाहिए।

6. Special 26 (2013)

best bollywood thriller movie - special 26

नीरज पांडे द्वारा निर्देशित फिल्म Special 26 एक कमाल की फ़िल्म हैं जिसमें अक्षय कुमार, अनुपम खैर, मनोज बाजपेयी, काजल अग्रवाल, जिम्मी शेरगिल और दिव्या दत्ता लीड कैरेक्टर्स में हैं।

यह फ़िल्म 1987 के ओपेरा हाउस चोरी कांड पर आधारित हैं जिसे कुछ लोगों ने सीबीआई ऑफ़िसर बनकर इनकम टैक्स की रेड बताकर लूटा था।

फ़िल्म में हमें इन नकली सीबीआई ऑफ़िसर्स की चालाकी देखने को मिलेगी जहाँ ये किस तरह लोकल पुलिस को साथ मिलाकर बड़े और अमीर लोगों का काला धन लूट लेते हैं।

फ़िल्म को क्रिटिक्स की तरफ़ से काफ़ी अच्छा रिस्पॉन्स मिला और इस फ़िल्म का तमिल में रीमेक भी बनाया गया और इस फ़िल्म को उस साल की सबसे बेहतरीन फ़िल्म भी माना गया।

अगर आप bollywood thriller movies देखने के शौकीन हैं तो इस फ़िल्म को जरूर देखें।

7. Manorama Six Feet Under (2007)

manorama six feet under thriller movie

साल 2007 में आई फ़िल्म Manorama Six Feet Under को नवदीप सिंह ने डायरेक्ट किया हैं जिसमें अभय देओल, राइमा सेन और गुल पनाग लीड कैरेक्टर्स में हैं।

Manorama Six Feet Under अमेरिकन फ़िल्म चाइनाटाउन के ऊपर आधारित हैं जो 1974 में रिलीज़ हुई थी।

फ़िल्म की कहानी हैं राजस्थान के एक छोटे से कस्बे लखोट की जहाँ सत्यवीर सिंह रंधावा (अभय देओल) अपनी बीवी निम्मी (गुल पनाग) और अपने बेटे के साथ रहता हैं।

सत्यवीर एक लेखक हैं और नॉवल भी लिख चुका हैं।

ये भी पढ़ें:- Best Bollywood Comedy Movies

कहानी में ट्विस्ट तब आता हैं जब सत्यवीर से मिलने एक औरत आती हैं जो खुद को मिसेज पी पी राठौड़ बताती हैं जो कृषि मंत्री पी पी राठौड़ की बीवी हैं।

वह अपने आपको सत्यवीर की नॉवल का फैन बताती हैं और चाहती हैं कि वह नॉवल के किरदार रघु जो कि एक जासूस होता हैं, उसकी तरह उसके पति के अफ़ेयर की सच्चाई का पता लगाए।

फ़िल्म की कहानी काफ़ी रोचक हैं जिसे आपको देखने में वाकई मज़ा आएगा।

8. Bluffmaster (2005)

best bollywood thriller movie - bluffmaster

रोहन सिप्पी द्वारा निर्देशित फिल्म Bluffmaster में आपको एक लंबी चौड़ी स्टार कास्ट देखने को मिलेगी जिसमें अभिषेक बच्चन, प्रियंका चौपड़ा, रितेश देशमुख, संजय मिश्रा, बोमन ईरानी और नाना पाटेकर अहम भूमिका में नजर आएंगे।

यह अर्जेंटीनी फ़िल्म नाइन क्वीन्स का अडॉप्टेशन हैं जो साल 2000 में रिलीज़ हुई थी।

फ़िल्म की कहानी हैं रॉय कपूर (अभिषेक बच्चन) की जो एक ठग हैं और अपनी गर्लफ्रैंड सिमरन आहूजा उर्फ़ सिम्मी (प्रियंका चौपड़ा) से शादी करने वाला हैं।

लेकिन उनकी सगाई के दिन सिम्मी को रॉय की असलियत पता चल जाती हैं और वो उसे छोड़ देती हैं जिस कारण रॉय काफ़ी ज्यादा शराब पीने लगता हैं।

6 महीनों बाद दो लोग आदित्य श्रीवास्तव उर्फ़ डिट्टू (रितेश देशमुख) और जस्सी (संजय मिश्रा) रॉय को लूटने की कोशिश करते हैं लेकिन विफल हो जाते हैं।

बाद में, डिट्टू रॉय से लूटने के तरीके सिखाने की सिफारिश करता हैं और रॉय मान जाता हैं, जिसके चलते रॉय और डिट्टू एक क्लब में जाते हैं।

लेकिन वहाँ रॉय बेहोश होकर गिर जाता हैं तो डिट्टू उसे अस्पताल ले जाता हैं जहाँ पता चलता की रॉय को ब्रेन ट्यूमर हैं।

फ़िल्म की कहानी में आगे क्या होता हैं और क्या सिमी और रॉय फिर से मिल पाएंगे?

ये आपको फ़िल्म देखकर ही पता चलेगा।

9. A Death in the Gunj (2016)

a death in the gunj thriller movie

बॉलीवुड एक्ट्रेस कोंकणा सेन शर्मा द्वारा निर्देशित और लिखी गयी फ़िल्म A Death in the Gunj एक अंडररेटेड bollywood thriller movie हैं।

फ़िल्म में आपको लम्बी चौड़ी स्टार कास्ट देखने को मिलेगी जिसमें विक्रांत मस्सी, तिलोत्तमा शोमे, ओम पुरी, तनुजा, गुलशन देवैया, कल्कि कोएचलिन, जिम सरभ और रणवीर शोरे अहम भूमिकाओं में दिखाई देंगे।

फ़िल्म की कहानी शुरू होती हैं नन्दू (गुलशन देवैया) और ब्रायन (जिम सरभ) से जो मुर्दाघर के सामने खड़ी अपनी कार की डिग्गी में पड़ी लाश को घूरते रहते हैं।

फ़िल्म को क्रिटिक्स ने काफ़ी सराहा और फिल्मफेयर अवॉर्ड्स में इसे 8 नॉमिनेशन्स प्राप्त हुए जिसमें बेस्ट फ़िल्म, बेस्ट एक्टर और बेस्ट सपोर्टिंग एक्ट्रेस मुख्य थे।

10. Wazir (2016)

best bollywood thriller movie - wazir

फ़िल्म Wazir की कहानी एक एंटी टेरेरिज़्म स्क्वाड ऑफ़िसर दानिश अली (फरहान अख़्तर) के बारे में हैं जो अपनी बीवी रुहाना (अदिति राव हैदरी) और छोटी बच्ची नूरी के साथ रहता हैं।

एक रोज जब दानिश अपनी बीवी और बेटी के साथ कहीं जा रहा होता हैं तो उसे एक आतंकवादी फ़ारुख रमीज़ दिखाई देता हैं और वो उसके पीछे उसे पकड़ने की कोशिश करता हैं।

शूटआउट में दानिश की बेटी नूरी की मौत हो जाती हैं जबकि रमीज़ भागने में कामयाब हो जाता हैं।

उसके बाद एक ऑपरेशन में दानिश रमीज़ को मार देता हैं जिससे उसके सीनियर ऑफ़िसर्स नाराज़ हो जाते हैं क्योंकि वो उसे जिंदा पकड़ना चाहते थे, जिस कारण दानिश को सस्पेंड कर दिया जाता हैं।

उधर रुहाना नूरी की मौत का जिम्मेदार दानिश को मानती हैं।

एक दिन दानिश एक हैंडीकैप्ड शतरंज के खिलाडी पंडित ओमकार नाथ धर (अमिताभ बच्चन) से मिलता हैं जो नूरी का शतरंज अध्यापक हुआ करता था।

पंडित ओमकार दानिश को भी शतरंज सीखाने लगता हैं और अपनी बेटी नीना के बारे में बताता हैं जो मर चुकी हैं।

फ़िल्म की कहानी यूँही आगे बढ़ती हैं जिसमें हमें नील नितिन मुकेश एक अहम किरदार निभाते हुए दिखेंगे।

फ़िल्म में जॉन अब्राहम special appearance में दिखाई देंगे।

फ़िल्म की कहानी कमाल की हैं और हमें कई बेहतरीन scenes भी देखने को मिलेंगे।

तो ये कुछ ऐसी bollywood thriller movies हैं जिन्हें आपको जरूर देखना चाहिए।

इनमें से किस फ़िल्म को आप देख चुके हैं? मुझे कॉमेंट्स में जरूर बताएं।

पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ भी शेयर कीजिए!

Leave a Reply