Cubicles Season 2 TVF वेब सीरीज़ रिव्यू SonyLiv [2022]

2019 में TVF ने Cubicles नाम की एक वेब सीरीज़ बनाई थी और हाल ही उसके दूसरे सीज़न को रिलीज़ किया गया हैं।

हर मूवी या वेब सीरीज़ की कोई target audience होती हैं। Cubicles 2 की target audience वो लोग हैं जो ऑफ़िस जाते हैं और भारत में इस तरह के audience की संख्या काफी ज़्यादा भी हैं।

वहीं इस सीरीज़ की रिलीज़ करने की timing भी perfect हैं। Pandemic के मारे लगभग हर कोई अपने घरों में कैद हैं और ठीक उसी वक्त इस सीरीज़ को रिलीज़ किया गया हैं जो 9 से 5 की नोकरी करने वालो के ऊपर बनी हैं।

आईए, SonyLiv पर रिलीज़ हुई इस सीरीज़ के बारे में थोड़ा डिटेल में बात करते हैं।

Cubicles Season 2 Review in Hindi

cubicles season 2 web series review in hindi

स्टार कास्ट

Cubicles 2 का सबसे अहम किरदार हैं पीयूष प्रजापति जिसे प्ले किया हैं अभिषेक चौहान ने जबकि मेघना अस्थाना का कैरेक्टर प्ले कर रही हैं निधि बिष्ट।

तीसरा अहम किरदार हैं गौतम बत्रा का जिसे प्ले कर रहें हैं बद्री चवन।

साथ ही, इस सीरीज़ में नवीन शेट्टी/गम्भीर का भी एक कैरेक्टर हैं जिसे निकेतन शर्मा प्ले करते हुए नजर आएंगे।

इन सब कैरेक्टर्स के अलावा Cubicles 2 में आपको एक लंबी चौड़ी star cast देखने को मिलेगी।

स्टोरी

Cubicles के पहले सीज़न में हमें पीयूष प्रजापति नाम के लड़के की कहानी दिखाई गई थी, जिसने एक tech कम्पनी में अपनी पहली नोकरी शुरू की थी।

Cubicles season 2 में हमें उसका extended version या फिर यूँ कहे कि real life version देखने को मिलता हैं।

नोकरी के पहले साल में जोश में रहने वाला पीयूष अब ठंडा पड़ चुका हैं।

cubicles season 2 abhishek as piyush prajapati

अब वो 9 से 5 वाले जॉन में आ चुका हैं यानी काम खत्म करो घर जाओ।

अब यहाँ problem ये हैं की इस प्रोसेस के बीच में उसकी morality और इंटरनेट पर पढा ज्ञान आड़े आने लगता हैं। उसे लगता हैं कि वो यहाँ फँस चुका हैं।

अब उसके पास दो choices हैं, पहला – उसे ऐसी जगह नोकरी करनी चाहिए जहाँ वो comfortable हैं और उसके कई दोस्त बन गए हैं।

जबकि दूसरा option ये हैं कि वो उस जॉब offer को accept करें जहाँ उसे बढ़ी हुई सैलेरी और जबरदस्त compitition मिल रहा हैं।

अब इतना तो आप भी समझदार हैं कि इन दोनों options में से पीयूष क्या चुनने वाला हैं?

ये भी पढ़ें:- रंजिश ही सही वूट वेब सीरीज़ रिव्यू: महेश भट्ट की जिंदगी पर आधारित

इस Cubicles Season 2 की problem ये हैं कि ये सीरीज़, 9 से 5 वाली जॉब के personal side को वास्तविकता के बेहद नजदीक रखती हैं, जबकि professional side को काफ़ी रोमानी अंदाज़ में आपके सामने प्रस्तुत किया जाता हैं।

जो लोग इस तरह की जॉब्स कर रहें हैं वो तुंरत इस चीज को समझ जाएंगे जबकि वो लोग जो कुछ बेहतर, मेरा मतलब हैं कुछ अलग कर रहें हैं उन्हें ये चीज काफी आकांक्षी लग सकती हैं।

इसे अगर में एक उदाहरण से समझाऊँ तो शायद आपको थोड़ा बेहतर समझ आएगा।

सीरीज़ का एक scene हैं जिसमें पीयूष दूसरी नोकरी के किये apply कर रहा हैं और सामने वाली कम्पनी से उसके पास hiring के लिए कई calls आते हैं जो थोड़ा मुझे unreal सा लगा।

मगर पीयूष की personal life ज्यादातर लोगों की तरह काफ़ी नीरस हैं। देर से उठना, कैब करके ऑफ़िस जाना, deadlines की तलवार के साथ आपने बॉस की डांट खाना, ये सब उसकी life का एक बड़ा हिस्सा हैं।

इस कम्पनी ने उसकी सैलरी में बढ़ौतरी तो की हैं लेकिन वो पैसे उसे 2 साल के बाद मिलेंगे।

इतनी दिक्कतों के बावजूद भी पीयूष यही नोकरी करना जारी रखता हैं, साथ ही ये सीरीज़ दूसरों को भी कुछ ऐसा ही करने को motivate करती हैं लेकिन थोड़े hopeful तरीके से।

Cubicles 2 एक हल्की फुल्की सीरीज़ हैं लेकिन इसके किरदार और कहानियाँ काफी जुड़ी हुई सी लगती हैं।

एक साथ काम कर रहें ये लोग अलग अलग बैकग्राउंड से आते हैं और एक दूसरे से बिल्कुल अलग होते हैं।

जिंदगी को लेकर उनकी philosophy अलग होती हैं, उनके सपने भी अलग होते हैं।

इसमें Shawshank Redemption जैसी classical मूवी का reference बड़े कमाल के तरीके से दिया गया हैं और इस reference को जिस तरह ख़त्म किया जाता हैं वहीं इस reference को ध्यान में लाता हैं।

ये भी पढ़ें:- Human वेब सीरीज़ रिव्यू: डिज़्नी प्लस हॉटस्टार स्पेशल सीरीज़

ये सीरीज़ नोकरी और अपनी जिंदगी के बीच फँसे लोगों की कहानी दिखाती हैं और उन्हें समझने के लिए नैतिकता का सहारा लेती हैं।

पीयूष प्रजापति अपनी सहकर्मी सुप्रिया को समझाते हुए एक लाइन कहता हैं – ऐसा dicision ही क्यों लेना जिसका by product guilt हो।

जबकि में सुनिश्चित हूँ कि पीयूष अपनी जॉब को ना बदलने के फैसले को लेकर खुद guilt में बैठा होगा।

TVF अक्सर वर्किंग क्लास के लोगों के लिए कॉन्टेंट बनाने के लिए जानी जाती हैं ऐसा इसलिए क्योंकि इन कहानियों को वर्किंग क्लास के लोग ही लिख और निभा रहे हैं।

इसलिए आपको Cubicles 2 जैसी सीरीज़ के किरदार और कन्फ्यूजन अपने जैसे लगते हैं और इनके साथ आपको एक जुड़ाव सा महसूस होता हैं।

जिस लाइन का जिक्र मैंने अभी ऊपर किया, इस सीरीज़ में ऐसी कई लाइन्स आपको सुनने मिलेंगी।

यह मनोरंजन के लिए बनी एक सीरीज़ हैं जिसे उसी नजरिए से देखा जाना चाहिए।

Cubicles 2 एक सपने के साथ शुरू होती हैं और इसका अंत भी बिल्कुल सपना ही होता हैं, एक ऐसा सपना जिसके पूरा होने की सिर्फ उम्मीद और इंतजार किया जा सकता हैं।

एक्टिंग और परफॉर्मेंस

पीयूष प्रजापति यानी अभिषेक चौहान अपनी दमदार एक्टिंग से हर किसी के दिल में जगह बनाने में कामयाब हुए हैं।

9 से 5 वाली जॉब में जिन भी परेशानियों का सामना करना पड़ता हैं उन्हें बखूबी express किया हैं अभिषेक ने।

ये भी पढ़ें:- Matsya Kaand वेब सीरीज़ रिव्यू: चोर, पुलिस और महाभारत

इस सीज़न में अभिषेक की professional life को ज्यादा हाईलाइट किया गया हैं।

हर एक कैरेक्टर अपना खुद का एक अलग ही जॉन बना देता हैं, भले ही थोड़ी देर के लिए ही क्यों ना हो लेकिन आप हर कैरेक्टर की परफॉर्मेंस को enjoy करोगे।

रेटिंग

तो यार मेरी तरफ़ से Cubicles Season 2 को 5 में से 3.5 स्टार्स मिलेंगे।

एक स्टार एक्टर्स की परफॉर्मेंस के लिए, सभी कलाकारों ने शानदार परफॉर्मेंस दी और ऑफ़िस के अहसास से जुड़ने का एक मौका दिया।

दूसरा स्टार मिलेगा इसकी राईटिंग के लिए, जिस तरह हर एक कैरेक्टर को सही तरीके से लिखा गया वो बेहतरीन था।

तीसरा स्टार मिलेगा इस सीरीज़ की length के लिए, Cubicles Season 2 में आपको सिर्फ 5 एपिसोड्स देखने को मिलेंगे और ऐसा बिल्कुल भी नहीं लगेगा कि इन्हे जबरदस्ती बढ़ाया या कम किया गया हो, जितनी कहानी उतने एपिसोड्स।

ये भी पढ़ें:- Aranyak Web Series Review: नेटफ्लिक्स का असुर

जबकि आधा स्टार देना चाहूँगा casting के लिए, हर एक कैरेक्टर को प्ले करने वाले कलाकार अपने रोल के साथ पूरा न्याय कर रहें हैं।

वहीं अगर नेगेटिव्ज की बात करूँ तो एक स्टार कटेगा शुरुआती एपिसोड को उतना engaging ना रख पाने के लिए, शुरुआत में वो entertainment देखने को नहीं मिलता जो किसी भी सीरीज़ के पहले एपिसोड में होना चाहिए।

जबकि आधा स्टार कटेगा इस सीरीज़ को पूरे तरीके से IT sector के लिए बनाने के लिए, क्योंकि जो IT sector में नहीं हैं उन्हें शायद इससे जुड़ने में परेशानी हो सकती हैं।

Overall, Cubicles Season 2 एक बेहतरीन सीरीज़ हैं जिसके लिए आपको अपना वक्त निकालना चाहिए। हालाँकि अगर आपने इसका पहला एपिसोड नहीं देखा हैं तो पहले उसे जरूर देखिए।

और हमेशा की तरह अगर आपने Cubicles Season 2 देख लिया हैं तो कॉमेंट्स में अपने विचार जरूर share करें।

में मिलता हूँ आपसे किसी ओर मूवी रिव्यू में तब तक के लिए जय हिंद।

इस हफ़्ते क्या देखें?

कैम्पस डायरीज – MX Player पर मौजूद इस सीरीज़ को आपको जरूर देखना चाहिए। जिस तरह Cubicles ऑफ़िस life को दिखाती हैं, कैम्पस डायरीज आपको कॉलेज life में जीने का मौका देती हैं।

Inside Edge Season 3 – अगर आप भी मेरी तरह क्रिकेट में दिलचस्पी रखते हैं तो हाल ही अमेज़ॉन प्राइम पर रिलीज़ हुई Inside Edge का तीसरा Season आपको जरूर देखना चाहिए।

पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ भी शेयर कीजिए!

Leave a Reply