Don’t Look Up Netflix Movie Hindi Review: लियोनार्डो डिकैप्रियो

आपने ऐसी न्यूज़ कई बार सुनी होगी जिसमें बताया जाता हैं कि एक धूमकेतु हमारी पृथ्वी की ओर आ रहा हैं।

लेकिन क्या आपने आज तक उन ख़बरों पर भरोसा किया?

हाँ या ना? इसका जवाब आप बाद में दीजिएगा, क्योंकि इस ब्लॉग में हम जिस मूवी का रिव्यू करने जा रहें हैं, वो इसी टॉपिक पर बनी हैं।

Don’t look up, नेटफ्लिक्स पर हाल ही रिलीज़ हुई हैं जिसे ओरिजिनली इंग्लिश लेंग्वेज में बनाया गया हैं लेकिन ये हिंदी डबिंग में भी उपलब्ध हैं।

Don’t Look Up Review in Hindi

Don’t Look Up Hindi Review: स्टोरी

Don’t look up फ़िल्म की कहानी मिशिगन स्टेट यूनिवर्सिटी के एक स्टूडेंट और प्रोफेसर से शुरू होती हैं।

इस मूवी में प्रोफेसर यानी डॉ. रान्डेल मिंडी का किरदार लियोनार्डो डिकैप्रियो ने प्ले किया हैं वहीं स्टूडेंट यानी केट डीबियास्की का कैरेक्टर जेनिफर लॉरेंस ने प्ले किया हैं।

उन्हें रिसर्च के दौरान एक 9 से 10 किलोमीटर बड़े धूमकेतु के बारे में पता लगता हैं जो बहुत तेजी से हमारी पृथ्वी की ओर आ रहा हैं।

और रिसर्च से पता चलता हैं कि ये धूमकेतु लगभग 6 महीनें 14 दिनों में पृथ्वी से टकरा जाएगा। जिसका परिणाम ये होगा कि धरती से ना सिर्फ इंसान ख़त्म होंगे बल्कि सारे जानवर भी मारे जाएंगे।

ये भी पढ़ें:- The Lost Daughter Netflix Movie Review in Hindi: कम उम्र में बनी माँ की कहानी

डॉ. मिंडी और केट डीबियास्की को जब ये पता चलता हैं तो वो काफ़ी डर जाते हैं और इसके बारे में प्रेसिडेंट को बताने के लिए वो व्हाइट हाउस जाते हैं।

जहाँ वो यूनाइटेड स्टेट की प्रेसिडेंट ओर्लिन से मिलते हैं जिसका कैरेक्टर मेरली स्ट्रीप ने प्ले किया हैं।

वैसे तो अमेरिका के इतिहास में आज तक कभी कोई महिला प्रेसिडेंट नहीं बनी हैं, लेकिन इस फ़िल्म में हमें देखने को मिला हैं।

ये भी पढ़ें:- Spider Man No Way Home Movie Review: स्पाइडर मैन फैन्स के लिए एक तोहफा

अब अगर हम बात करें धूमकेतु के इस तरह धरती से टकराने वाली ख़बर का, तो मेरे ख़याल से हर हफ़्ते ऐसी ख़बर न्यूज़ में सुनने को मिलती हैं।

शायद इसी वजह से प्रेसिडेंट ओर्लिन ने भी इस बात को बिल्कुल भी सीरियसली नहीं लिया।

इसी फ़िल्म में एक कैरेक्टर हैं जेसन ओर्लिन नाम का, जिसे जोना हिल ने प्ले किया हैं। जेसन को व्हाइट हाउस में चीफ़ ऑफ स्टाफ़ बनाया गया हैं।

इस बात पे कोई शक नहीं कि जेसन अनुशासनहीन और नाकारा हैं और इस पद के लिए कहीं से भी फिट नहीं बैठता लेकिन क्योंकि वो प्रेसिडेंट ओर्लिन के बेटे हैं, तो उन्हें बिना कुछ किए यह पोस्ट मिल गयी।

ये भी पढ़ें:- Money Heist Season 5 Vol 2 Netflix Web Series Review: दुनियाँ की सबसे बड़ी चोरी का अंत

अब यहाँ फ़िल्म मेकर्स ने नेपोटिज्म पर तंज कसा हैं जो हॉलीवुड का तो नहीं पता लेकिन बॉलीवुड में ये काफी अंदर तक घुस चुका हैं या फिर यूँ कहें कि पूरा बॉलीवुड नेपोटिज्म के इशारों पर चल रहा हैं।

इस बारे में आपकी क्या राय हैं नीचे कमेंट्स में जरूर शेयर कीजिएगा।

खैर, हम फ़िल्म की कहानी पर चर्चा कर रहें थे तो उसे कंटीन्यू करते हैं।

इसके बाद डॉ. मिंडी और केट डीबियास्की दोनों निराश होकर वहाँ से चले जाते हैं जिसके बाद वो निर्णय लेते हैं कि इस खबर को मीडिया के माध्यम से पूरे अमेरिका की जनता तक पहुँचाया जाए।

जिससे जनता सरकार पर दबाव डाले और सरकार इस मामले को सिरियसली ले।

यहाँ फ़िल्म में हमें एक ओर सीन देखने को मिलता हैं जो सेलेब्रिटी कल्चर की धज्जियां उड़ाता हैं। ये सीन हर उस शक़्स को देखना चाहिए जो किसी सेलेब्रिटी के पीछे पागल हैं।

डॉ. मिंडी और केट डीबियास्की की यह कोशिश पूरी तो होती हैं लेकिन कई नाटकीय मोड़ आने के बाद।

ये भी पढ़ें:- The Matrix Resurrections Review: आज के दौर का नया मैट्रिक्स

यहाँ हमें ये भी देखने को मिलता हैं कि किस तरह सोशल मीडिया पर मीम्स बनते हैं? और बेवज़ह बिना कुछ सोचे समझे लोग उन्हें एक के बाद एक आगे शेयर करते जाते हैं।

यहाँ हमें पोलिटिकल एंगल भी देखने को मिलता हैं कि किस तरह पॉलिटिशियन किसी ख़बर को अपने चुनावी फायदे के लिए इस्तेमाल करते हैं?

पोलिटिकल एंगल की बात करें तो इसे बेहद सिंपल तरीके से दिखाया गया हैं क्योंकि जहाँ तक में इस सब्जेक्ट में समझता हूँ, ये काफ़ी इंट्रेस्टिंग होता हैं।

यहाँ तक कि इस फ़िल्म में इस एंगल को जितना दिखाया हैं उससे कहीं गुना इंट्रेस्टिंग असलियत में होता हैं। तो मेरे विचार में यहाँ फ़िल्म थोड़ी कमजोर पड़ गयी।

फ़िल्म में कॉरपोरेट हाउस की भी एंट्री होती हैं जो फ़िल्म को एक नया मोड़ दे देता हैं जहाँ फ़िल्म थोड़ी ओर इंट्रेस्टिंग हो जाती हैं।

फ़िल्म में एक ऐसा मोड़ आता हैं जब धूमकेतु पृथ्वी के इतना नजदीक आ जाता हैं जिससे हमें अपनी आँखों से भी दिखने लगे जाता हैं।

ये भी पढ़ें:- The Silent Sea Netflix Web Series Review Hindi: Sci-Fi कोरियन ड्रामा

जिसके बाद डॉ. मिंडी और केट डीबियास्की लोगों से आह्वान करते हैं कि ऊपर आसमान में देखिए, धूमकेतु दिखाई देने लगा हैं।

इसी के विरोध में सरकार लोगों से कहती हैं कि ऊपर मत देखों “Don’t Look Up” और इसी वजह से फ़िल्म का नाम रखा गया डोंट लुक अप।

फ़िल्म में हमें कुछ कुछ जगह भारत का उल्लेख किया जाता हुआ भी दिखाई देगा।

यहाँ तक कि बॉलीवुड अभिनेता ईशान खट्टर भी इस फ़िल्म में एक कैमियो करते हुए नजर आएंगे।

Don’t Look Up Hindi Review: रेटिंग

मेरी तरफ से Don’t look up फ़िल्म को 5 में से 3.5 स्टार्स मिलेंगे। एक स्टार अच्छी राईटिंग के लिए जिससे फ़िल्म थोड़ी इंट्रेस्टिंग बनी।

वहीं दूसरा स्टार मिलेगा परफॉर्मेंस के लिए, आपको कहीं भी एक्टर्स की बेकार परफॉर्मेंस देखने को नहीं मिलेगी।

जबकि तीसरा स्टार मिलेगा, एक कहानी के इर्दगिर्द छोटी छोटी कई कहानियों बुनने के लिए, जिसके चलते अलग अलग टॉपिक्स पर फ़िल्म मेकर्स तंज कस पाए।

नेगेटिव्ज पॉइंट्स की बात करूँ तो फ़िल्म में पोलिटिकल एंगल को जिस तरह प्रस्तुत किया, वो उतना बेहतर नहीं था, इसे थोड़ा ओर इंट्रेस्टिंग बनाया जा सकता था।

जबकि एक स्टार काटना चाहूँगा, फ़िल्म में भारत का पक्ष दिखाने वाले नजरिए के लिए।

फ़िल्म में कई देशों के बारे में बताया गया, उनके कल्चर को दिखाया गया, लेकिन भारत के लिए ऐसा कुछ नहीं किया गया।

फ़िल्म में जब ईशान खट्टर भारत को रिप्रेजेंट कर रहें थे तो उनका बोलने का तरीका और शब्द, दोनों ही मुझे बिल्कुल पसंद नहीं आए।

खैर, Don’t look up फ़िल्म के बारे में ये मेरा पर्सनल ओपीनियन था। अगर आपने यह फ़िल्म देखी हैं तो नीचे कमेंट्स में अपने विचार जरूर शेयर करें।

Don’t Look Up Hindi Review: डिटेल्स

डायरेक्टर – एडम मैकेयू
राईटर – एडम मैकेयू, डेविड सिरोटा
कास्ट – लियोनार्डो डिकैप्रियो (डॉ. मिंडी), जेनिफर लॉरेंस (केट डीबियास्की), मेरली स्ट्रीप (प्रेसिडेंट ओर्लिन)
रनिंग टाइम – 2 घण्टे 18 मिनट
रिलीज़ डेट – 5 दिसंबर 2021

पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ भी शेयर कीजिए!

Leave a Reply