The Empire Web Series Review in Hindi: Release Date, Cast, Story

किसी भी शो या फ़िल्म को पॉपुलर बनाने का सबसे छोटा और आसान तरीका हैं controversy और इसका दूसरा नाम हैं इतिहास

इतिहास से कुछ ऐसा उठाकर बना दो जिससे लोग emotionally जुड़े हुए हैं और फिर सोशल मीडिया पर इसे लेकर बवाल खड़ा करवा दो और last में audience दो groups में बंट जाती हैं, एक साथ तो दूसरी ख़िलाफ़।

The Empire इसी योजना के तहत तैयार किया गया एक ओर नया शो।

अब आपको बुरा लगे या अच्छा लेकिन शो मेकर्स का तीर लगा हैं सीधा निशाने पर, बदनाम हुआ तो क्या नाम तो हुआ ना।

लेकिन दोस्त, ना तो वो मेरा काम हैं और ना ही ये आर्टिकल उस बारे में हैं, क्योंकि बाबर हो या डाबर हमें घण्टा फ़र्क नहीं पड़ता।

में आपको बताऊँगा की Voot का ये नया शो The Empire आखिर हैं कैसा? अगर इसमें आप दिलचस्पी रखते हो तो आगे पढ़ना नहीं तो टाटा गुडबाय।

The Empire Web Series Review in Hindi

the empire web series review in hindi

The Empire Cast (स्टार कास्ट)

The Empire का सबसे अहम कैरेक्टर बाबर, इसके किरदार को निभाया हैं कुणाल कपूर ने जबकि बाबर के बचपन के किरदार को प्ले किया हैं महरूस मीर ने।

शो में शबाना आज़मी ने ऐसान दौलत उर्फ़ शाह बेगम का किरदार निभाया हैं।

शेख़ महिम के किरदार में महिम मासूम, खानजादा बेगम के किरदार में दृष्टि धामी दिखाई देंगी वहीं खानजादा बेगम के बचपन के किरदार को ग्रेसी गोस्वामी ने निभाया हैं।

ये भी पढ़ें:- कैंडी वेब सीरीज़ रिव्यू

विलेन के कैरेक्टर में शैबानी खान हैं जिनका किरदार निभा रहें हैं डिनो मौर्या जबकि हुमायूँ के किरदार में आदित्य सील और वज़ीर खान के किरदार में राहुल देव स्क्रीन पर दिखाई देंगे।

The Empire Story (कहानी)

स्कूल के दिनों में मुगल के चैप्टर्स जरूर पढ़ें होंगे आपने, एक गए तो दूसरे आ गए, दूसरे गए तो तीसरे आ गए।

एक बात तो आप मानते हो ना कि किसी भी गणित की टेबल को याद करने से भी ज्यादा मुश्किल था इन मुगलों के नाम और उनके आने जाने की तारीखों को याद रखना, हैं ना।

तो बस जिसने इसकी शुरुआत की, The Empire शो का फोकस उसके ऊपर ही हैं।

बाबर हैं बादशाह जिनकी जिंदगी का सबसे बड़ा चैलेंज अपने पिताजी की खाली कुर्सी पर बैठकर लोगों का भरोसा और जंग का मैदान, दोनों जीतना हैं।

लेकिन दुश्मन हैं बहुत ही ज्यादा ख़तरनाक जो इनके सामने गर्दन झुकाता नहीं बल्कि सामने वाले का सिर किसी सोने या चांदी की प्लेट में सजाकर लोगों के सामने प्रस्तुत कर देता हैं।

ये भी पढ़ें:- स्क्विड गेम वेब सीरीज़ रिव्यू

अब शो की शुरुआत होती हैं बचपन वाले बाबर के साथ फिर एपिसोड दर एपिसोड दुश्मन इनके क़रीब आ जाता हैं।

फिर वहीं फाइनल मुकाबला जिसमें तलवार के साथ दिमाग का इस्तेमाल भी किया जाएगा।

एक लाइन में The Empire का रिव्यू करूँ तो ये एक लंबा छोड़ा high बजट वाला शो हैं नए और fresh कॉन्टेन्ट के साथ जिसके लिए हमने काफ़ी इंतज़ार किया हैं।

हाँ, कमियाँ हैं और controversies भी काफ़ी हैं।

लेकिन The Empire कोई साधारण वेब सीरीज़ नहीं हैं, इसको साबित करने के लिए मेरे पास कुल तीन कारण हैं।

पहला कारण शो का पैसा वसूल डायरेक्शन, मतलब शो के पहले एपिसोड से लेकर अंतिम एपिसोड तक कहीं भी कोई फालतू की चीजें नहीं डाली गयी हैं।

ना तो वो एडल्ट scenes जिसके लिए बॉलीवुड काफ़ी फ़ेमस हैं और ना ही religion वाली ideology को जबरदस्ती खोदकर बाहर निकाला गया हैं।

पूरा फोकस सिर्फ The Empire पर हैं मतलब कॉन्टेन्ट ही सब कुछ हैं।

दूसरा कारण बाबर को इतिहास से उठाकर किसी बादशाह की तरह प्रस्तुत नहीं किया गया हैं। एक पूरी journey हैं जिसमें वो जीरो से हीरो तक पहुँचता हैं, छोटी छोटी डिटेल्स देखने को मिलेगी शो में, कुछ भी गायब नहीं हुआ हैं।

ये भी पढ़ें:- भौकाल सीज़न 2 वेब सीरीज़ रिव्यू

मार धाड़ हैं, दर्द हैं, गुस्सा हैं, खून हैं और जीत का जश्न भी, ये सारी चीजें धीरे धीरे पूरी होंगी, थोड़ा वक्त देना पड़ेगा।

तीसरा कारण हैं नाम नहीं सिर्फ काम वाली casting, वो चेहरे जो अक्सर सिनेमा के पर्दे से गायब रहतें हैं लेकिन मौके पर चौका मारने में सारे के सारे एक्सपर्ट हैं बॉस।

अभी एक्टिंग और परफॉर्मेंस के बारे में डिटेल से बात करेंगे लेकिन पहले कुछ गड़बड़ हैं शो में, जिनके बारे में भी थोड़ा बता देता हूँ।

पहला तो ये की The Empire शो के मेकर्स जो गेम ऑफ थ्रोन्स के बराबर खड़े होने का सपना देख रहें हैं उसमे एकदम जमीन और चाँद जितनी दूरी हैं।

The Empire शो उस लेवल की creativity के आसपास भी नहीं हैं, दोनों सीरीज़ का थीम एक समान होने से ये इंडियन गेम ऑफ थ्रोन्स नहीं बन जायेगा।

हाँ लेकिन पद्मावत और बाजीराव मस्तानी वाला एहसास कहीं कहीं जरूर महसूस होगा आपको उसका तगड़ा कारण जानते हो क्या हैं? The Empire शो के डायरेक्टर इन दोनों फिल्मों में भी शामिल रह चुके हैं।

अब शो की दूसरी गड़बड़ वहीं पुरानी बॉलीवुड स्टाइल की फिल्ममेकिंग हैं।

एक हीरो बाकी सब जीरो, वन मेन शो।

हुआ ये की बाबर को ऊँचा उठाने के लिए बाकी के साइड कैरेक्टर्स को बर्बाद करके रख दिया हैं यहाँ।

ये भी पढ़ें:- टब्बर वेब सीरीज़ रिव्यू

और तीसरी गड़बड़ शुरू होगी पाँच एपिसोड्स के बाद, last के जो तीन एपिसोड्स बच जाते हैं वो एकदम कछुए की चाल से आगे बढ़ते हैं जो धीमे तो हैं ही साथ में extra लम्बे भी हैं।

और चौथी चीज़ हैं कुछ जबरदस्ती डाले गए scenes जिनके द्वारा बाबर को मासूम कली और शरीफ़ दिखाने की पूरी कोशिश की जाती हैं।

उन scenes से होता ये हैं कि वो main कहानी को कमजोर कर देते हैं। The Empire शो को इस फ़ालतू की लीपा पोथी की ज़रूरत बिल्कुल नहीं थी।

बाकी VFX, कॉस्ट्यूम, सेट्स, जंग का मैदान ये सारी चीजें एवरेज़ हैं। ना तो बहुत ही शानदार हैं और ना ही बेकार, काम चलाऊ हैं जो एक स्ट्रॉन्ग कहानी को पीछे से सपोर्ट कर रहें हैं बस।

एक्टिंग और परफॉर्मेंस

डिनो मौर्या को विलेन वाले अवतार में डालना, ये आईडिया जिसके दिमाग में आया उसकी तारीफ़ तो बनती हैं बॉस।

बन्दे ने आग लगा दी हैं इस अवतार में।

मुगल होंगे अपने घर के, ये बन्दा स्क्रीन पर जब होता हैं तो सामने वाले को खा जाता हैं।

एक तो कम शब्दों वाले लेकिन ज़हरीले डॉयलोग्स जिनके बैकग्राउंड में दमदार आवाज पूरा माहौल सा बन जाता हैं दोस्त।

ये भी पढ़ें:- परम्परा सीज़न 1 वेब सीरीज़ रिव्यू

राहुल देव, जिनके साथ बॉन्ड बनाने से खुद को रोक नहीं पाओगे आप और दृष्टि धामी ने बाबर यानी कुणाल कपुर को अपनी परछाई में छुपा के रख दिया हैं।

ये सिर्फ नाम के हीरो हैं जबकि पूरी कहानी का लाइमलाइट दृष्टि मेडम का कैरेक्टर ले उड़ा।

बाकी स्पोर्टिंग कैरेक्टर्स में शबाना आज़मी जबरदस्त हैं अपने फील्ड में, अपने इशारों पर नचाती हैं पब्लिक को। कभी प्यार करने को तो कभी नफरत फैलाने को, जैसा चाहती हैं बदल जाती हैं।

रेटिंग

तो यार मेरी तरफ से The Empire शो को 5 में से 3.5 स्टार्स।

एक स्टार तो कैरेक्टर building के लिए बनता ही हैं, सभी का कैरेक्टर्स कमाल का हैं बॉस।

दूसरा स्टार मिलेगा, बादशाह को बचपन से लेकर गद्दी तक सिर्फ बैठाना नहीं बल्कि उसे जीताना कैसे हैं? इस पर शो का फोकस डालने के लिए।

सब रेडीमेड नहीं हैं सारी डिटेल्स मिलेंगी वो भी परत दर परत।

तीसरा स्टार मिलेगा सीरीज़ के पहले सीज़न को दूसरे सीज़न पर ना टालते हुए परफेक्ट अंत देने वाले आईडिया के लिए।

और बड़ी चालाकी से दूसरे सीज़न को शुरू करने वाला रास्ता खुला छोड़ने के लिए, पूरा वक्त बर्बाद हुआ ऐसा बिल्कुल भी महसूस नहीं होगा आपको।

और आधा स्टार शो में एडल्ट scenes या फिर गालियों का इस्तेमाल ना करने के लिए।

बात करूँ नेगेटिव्ज की तो एक स्टार कटेगा The Empire शो को खुद की पहचान दिलाने की जगह इंडिया का गेम ऑफ थ्रोन्स बनाने के चक्कर में कहीं कहीं पर creativity छोड़कर कॉपी पेस्ट के रास्ते पर चलने की वजह से।

और आधा स्टार कुछ बढ़िया एक्टर्स और कैरेक्टर्स दोनों का सही ढंग से इस्तेमाल ना करके सीरीज़ को one man show बनाने की फ़ालतू कोशिश के लिए।

पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ भी शेयर कीजिए!

Leave a Reply